Amara ko 7 saal bad choda

0
7711

आप सबने मेरी पहली रियल स्टोरी तो पढ़ी ही होगी. मेरी बायोलॉजी टीचर ने मुझ से चुदवाया. मैं अपनी बायोलॉजी टीचर को ७ सालो में बहुत बार चोदा हैं. लेकिन आज मैं आपको बताऊंगा, कि ७ साल बाद, मैने अमारा अज़ीज़ की चुदाई की. जिसे मैं पीछले ७ सालो से चोदना चाहता था. लेकिन उसको मैंने अपनी बायोलॉजी टीचर के कारण छोड़ दिया था. अब कहानी पर आता हु. मैं पिछले ७ सालो से अमारा को ढूंढने की कोशिश कर रहा था और सोचता था की कैसे इसे चोदा जाए. लेकिन उसकी खोज खबर नहीं निकाल पा रहा था. इस दौरान मैं उसके दोस्तों से भी उसके बारे में पूछा, लेकिन कुछ भी हासिल नहीं हुआ. लेकिन उसकी सहेलिया जरुर पट गयी और मैं ने उनकी खूब चुदाई की. उनके बारे में मैं आपको बाद में बताऊंगा. एक दिन मैं इन्टरनेट पर बैठा अपनी फेसबुक चेक कर रहा था, और सोचा, चलो अमारा को सर्च किया जाए. किस्मत बहुत ही तेज थी.. उसका नाम लिखते ही वो मिल गयी और मैं सोचा, कि इसको फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजू की नहीं. फिर हिम्मत करके उसको फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दी.

अगले दिन, जब मैं अपना अकाउंट चेक किया, तो अमारा ने मेरी फ्रेंड रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट कर लिया था और साथ में ही अपना मेसेज भी छोड़ा था. वो जानना चाहती थी, कि मैं कैसा हु? मैं उसे ऑनलाइन आने का वक्त पूछा? तो उसने रिप्लाई दिया, कि वो रात को ऑनलाइन आएगी. अब मैं रात का इंतज़ार करने लगा और करीब १० बजे वो ऑनलाइन आ गयी और हम दोनों की चैटिंग शुरू हो गयी. मैंने उस से काफी सारी बातें करना चाहता हु और उसने भी रिप्लाई किया, की उसे भी मुझ से ढेर सारी बातें करनी है. मैं उस से उसका फ़ोन नंबर माँगा, तो उसने रिप्लाई किया, कि इतनी भी जल्दी क्या है. सब मिल जायेगा. मैं समझ गया, कि वो भी कुछ चाहती है. मुझ से थोड़ी देर बातें करने के बाद, उसने अपना नंबर दे दिया और अगले दिन मैंने उसको कॉल किया और हम बातें करने लगे. मैंने उसको पूछा, कि कोई बॉयफ्रेंड बनाया है क्या? तो उसने मुझे मना कर दिया और फिर उस ने भी मुझ से ये ही सवाल किया और मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछा? मैंने रिप्लाई किया – अभी नहीं. हाँ अगर तू चाहे, तो बन सकती है. मेरी बात को सुन कर वो थोड़ी शरमा गयी और बोली, कि थोड़ा इंतज़ार करो और फ़ोन तुरंत काट दिया.

थोड़ी देर बाद उसका मेसेज आया, कि मैं तो कब से तुम को मिलने को मचल रही थी… आई लव यू… मैं भी उसको रिप्लाई किया और एक उसको उसकी एक सेक्सी सी पिक फेसबुक पर भेजने को कहा. उसे मुझे फेसबुक पर अपनी एक सेक्सी हॉट मिनी स्कर्ट वाली पिक भेज दी. उस पिक में उसकी क्लीवेज भी दिखाई दे रही थी. मैं समझ गया, कि उसकी चूत भी चुदवाने के लिए फुद्फुदा रही है और वो मुझ से चुदवाना चाहती है. मैंने अब उसको चोदने का प्रोग्राम बनाना शुरू कर दिया और उस से मिलने का वक्त मनगा. उसने बताया, कि अब उस के भाई की शादी है और मैं उसके भाई की शादी में आ जाऊ. सब लोग शादी की तैयारी में बिजी होंगे और हम लोग अकेले में वक्त निकाल कर बात कर पायंगे. लेकिन बात कौन करना चाहता था. मैं उसके भाई की शादी में पहुच गया. उसने गुलाबी रंग का लहंगा पहना हुआ था. मैं उसको बस देखता ही रह गया था. उसकी बड़ी – बड़ी चुचिया ब्लाउज को फाड़ कर बाहर आने को बेताब थी. उसको देख कर मेरा लंड तो बेकाबू होने लगा था. उसका फिगर भी इतना बदल गया था, कि वो उस समय किसी मॉडल से कम नहीं लग रही थी.

उसका फिगर अब ३८ २४ ३६ का हो गया था. उसके ब्लाउज से उसकी चुचिये के बीच की घाटी साफ़ नजर आ रही थी. शादी में थोड़ी देर बाद जब सब बिजी हो गए, तो अमारा की छोटी बहन जिसका नाम अफरीन है, उसने मुझे बोला, कि जीजा जी आपको दीदी बुला रही है. उसकी छोटी बहन भी कम खुबसूरत नहीं थी. उसके मुह से जीजा जी सुनकर मेरा हौसला और भी बढ़ गया. हलाकि अफरीन अभी केवल १५ साल की ही थी, पर वो सब कुछ जानती थी. उसने मेरे खड़े लंड को देख लिया था और उस पर हाथ फेरते हुए बोली – इसे संभाल कर रखो. इसकी बहुत जरूरत है. फिर वो अमारा के पास एक कमरे में जाने लगी. मैं रास्ते में अफरीन की चुचिया दबा दी और उसने बोला – थोड़ा सबर करो. हम दोनों अमारा के पास पहुचे. मैंने दरवाजा लॉक कर दिया और बिना कुछ बात किये, अमारा पर टूट पड़ा. वो इसके लिए तैयार नहीं थी. पर मैंने उसे सँभलने का मौका ही नहीं दिया और उसको छोटी बहन के अफरीन के सामने ही उसके रसीले गुलाबी होठो को चूमने लगा.

उसकी बहन भी अब ये सब देख कर गरम होने लगी. अब अमारा भी मेरा साथ दे रही थी. मैं उसकी चुचिया दबाने लगा. उसे बहुत मज़ा आ रहा था. मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपना ६.५ लम्बे लंड पर रख दिया. वी उसे मसलने लगी. मैंने उसको एकदम से नंगा करने लगा. तो उसने मुझे रोक दिया और बोली – शादी का महौल है और मैं उसको पूरा नंगा ना करू. कभी भी कोई भी आ सकता है. मैं मैंने उसकी नहीं सुनी और उसकी एक टांग उठा कर चेयर पर रख दी और उसके लहंगे के नीचे से हाथ डाल कर उसकी चूत में ऊँगली करने लगा. वो एकदम से सिहर उठी. उसने लहंगे के नीचे से पेंटी नहीं पहनी हुई थी. अब मैंने उसका ब्लाउज उतार फेंका और उसकी चुचियो को आजाद कर दिया. साली के क्या बड़े – बड़े चुचे थे, कि हाथ में ही नहीं आ रहे थे. वो भी मेरा मुह अपनी चुचियो में दबाने लगी थी. उसने मेरी पेंट उतार दी और मेरा लंड एकदम से बाहर निकाल लिया. उधर अफरीन ये सब सब देख कर अपनी चूत में ऊँगली करने लगी थी. मैंने उसको गाली दी और कहा – साली, जाकर नजर रख.. तू परेशान ना हो.. तुझे भी चोदुंगा मैं… तेरे भी दिल के सारे अरमान निकाल दूंगा… अपने लंड से तेरी चूत का भोस्ड़ा बना कर.वो बाहर चली गयी और अमारा और मेरी चुदाई ख़तम होना का इंतज़ार करने लगी थी.

मैंने अमारा को नंगा किये बिना ही लिटा दिया और उसके लहंगे के नीचे से उसकी गुलाबी चूत को चाटने लगा. वो सिस्कारिया ले रही थी. मैंने अपने दोनों हाथो में उसकी चुचियो को पकड़ रखा था और मस्ती में दबा रहा था. वो मुझ से बोली – उसे मेरा लंड चुसना है. फिर हम दोनों ६९ पोजीशन में आ गए और वो मेरे लंड को लोलीपोप की तरह चूसने लगी थी. फिर मैंने उसे सीधा किया और उसने किसी रंडी की तरह टांगे चौड़ा ली और मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर रख दिया. उसकी चूत टाइट थी. पर कुछ धक्को के बाद, मेरा लंड उसकी चूत में आराम से चले गया. मैं समझ गया था, कि ये उसकी पहली चुदाई नहीं है. वो पहले भी मस्त चुदी हुई है. इसलिए मैंने उसकी गांड भी मारने का फैसला किया और उसे घोड़ी बना दिया और उसकी गांड पर अपना लंड टिका दिया. उसकी गांड पर मैंने अपना लंड जैसे ही रखा, वो मुझे मना करने लगी. पर मैंने उसकी बात नहीं मानी और उसकी गांड को चोदने लगा. वो दर्द के मारे कहराने लगी. थोड़ी देर के बाद, मैं ने वापस उसको सीधा किया और उसकी गुलाबी चूत में लंड अन्दर डाल कर चोदने लगा.

अब तक वो झड़ चुकी थी और थोड़ी देर धक्के मारने के बाद, मैं भी झड़ने वाला था.. मैंने उसके मुह में झड़ने का फैसला किया और अपना लंड उसके मुह में डाल दिया. वो चूसने लगी और मैं झड गया. उसने मेरा सारा माल पी लिया. उसे मुझसे चुदवा कर बड़ा मजा आया. मैंने उस से कहा, कि साली रंडी, मैं तो तुझे ७ सालो से चोदना चाहता था. तो उसने जवाब दिया, मैं अब तो तुम्हारी हु.. मुझे चोदते रहना और अपने ७ सालो की कसर को पूरा निकाल लेना. फिर मैंने उसको पूछा, कि मुझ से पहले वो किस से चुदी है. तो उसने मुझे बताया, कि उसको बुआ के लड़के ने २ -३ बार चोदा है. अब अमारा मेरे साथ किसी रखेल की तरह रहती है. मैंने उसकी छोटी बहन को भी खूब चोदा है. उसने मुझ से अपनी भाभी को भी चुदवाया है और मैंने मौका पा कर उसकी माँ को चोद दिया है. अमारा लंड की प्यासी है और कई बार मेरे दोस्तों से भी चुदवा चुकी है. हम ४ दोस्तों ने मिलकर उसकी बहन को भाभी को भी खूब चोदा है.

तो दोस्तों, ये थी मेरी लाइफ की एक सच्ची घटना. उसकी भाभी और उसकी माँ को चोदने की कहानी को मैं आपको फिर कभी सुनाऊंगा. तो दोस्तों, मुझे आपके कमेंट का हमेशा इंतज़ार रहेगा. मुझे प्लीज जरुर बताना, कि आपको मेरी स्टोरी कैसी लगी और क्या आपके जीवन में भी ऐसा कुछ हुआ है क्या.. अगर हुआ हो तो मुझे बताना जरुर… मैं वेट कर रहा हु आप लोगो के कमेंट का… आप किसी की वेट कर रहे हो… आपका लंड खड़ा हो हो गया है… चलो मुठ मार कर वापस आकर लिखना… अमारा के नाम का मारा ना…